Friday, January 29, 2010

प्रार्थना कोई यांत्रिक वस्तु नहीं है




अहंकार को शून्य करने में

प्रार्थना

मदद दे सकती है

प्रार्थना कोई यांत्रिक वस्तु नहीं है,

वह हृदय की क्रिया है

भगवान की प्रार्थना में

सारे भेदों को भूल जाने का

अभ्यास हो जाता है


- आचार्य विनोबा भावे



5 comments:

Udan Tashtari said...

सत्य वचन!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

प्रार्थना यान्त्रिक वस्तु तो नही
मगर
मान्त्रिक शक्ति अवश्य है!

निर्मला कपिला said...

सत्य वचन धन्यवाद्

Rekhaa Prahalad said...

Hum sab isi prayas me lage hai!

SACCHAI said...

" satya vachan sir."

----- eksacchai { AAWAZ }

http://eksacchai.blogspot.com