Sunday, May 16, 2010

वे लोग जिनके पास सिवाय तेरे सब कुछ है.....




मेरे प्रभो !

वे लोग जिनके पास सिवाय तेरे सब कुछ है,

उन लोगों पर हँसते हैं

जिनके पास

सिवाय तेरे कुछ नहीं है


- गुरुदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर



5 comments:

M VERMA said...

साधुवचन

जी.के. अवधिया said...

अति सुन्दर विचार!

kunwarji's said...

गुरु जी तो आखिर गुरु जी थे!

आपका आभार उनके सद्वचन हम तक पहुंचाने के लिए.....

कुंवर जी,

पी.सी.गोदियाल said...

अज्ञानता की परिभाषा !

सूर्यकान्त गुप्ता said...

कितनी सही बात कही है गुरुदेव ने।