Monday, December 28, 2009

वक्त की बर्बादी .............




ज़िन्दगी

कितनी ही बड़ी हो,



वक्त की

बर्बादी से

जितनी चाहे

छोटी बनाई जा सकती है



- जानसन



watch & enjoy


laughter ke phatke


by albela khatri & abhijeet sawant


new year special episod on STAR ONE


31 dec. 2009 10 P.M.

3 comments:

जी.के. अवधिया said...

अति सुन्दर विचार!

Rekhaa Prahalad said...

काश यह सब समझ पाते तो कितना अच्छा होता ना!!

विनोद कुमार पांडेय said...

सुंदर बात..धन्यवाद जी!!