Thursday, December 31, 2009

कृपा के योग्य बनने के लिए भी पुरूषार्थ चाहिए





यदि तुम


ईश्वर की दी हुई शक्तियों का


सदुपयोग नहीं करोगे,


तो वह अधिक नहीं देगा


इसलिए प्रयत्न आवश्यक है


ईश कृपा के


योग्य बनने के लिए भी


पुरूषार्थ चाहिए


- स्वामी रामकृष्ण परमहंस


नव वर्ष अभिनन्दन ! happy new year !



4 comments:

संगीता पुरी said...

सत्‍य कहा .. आपके और आपके परिवार के लिए भी नया वर्ष मंगलमय हो !!

जी.के. अवधिया said...

सुन्दर विचारों की श्रृंखला की एक और कड़ी!

आप तथा आपके परिजनों के लिये नववर्ष मंगलमय हो!

Rekhaa Prahalad said...

आभार, पढ़ कर एक नयी उमंग कि लहर दौड़ पड़ी मेरे मन मे. आप तथा आपके परिजनों के लिये नववर्ष मंगलमय हो.

रचना दीक्षित said...

एक बहुत सुंदर प्रस्तुति और
नववर्ष पर हार्दिक बधाई आप व आपके परिवार की सुख और समृद्धि की कमाना के साथ
सादर रचना दिक्षित